10th Economics Short Question Chapter 7

10th Economics Short Question Chapter 7

प्रश्न 1. उपभोक्ता के शोषण के कौन-कौन से तरीकें हैं? [2019A]
अथवा, उपभोक्ता शोषण के किन्हीं चार कारणों की विवेचना कीजिए? [M.Q., Set-V: 2011]

उत्तर-उपभोक्ता शोषण के प्रमुख कारण निम्न हैं
(1) उपभोक्ताओं की अज्ञानता ही उनके शोषण का प्रमुख कारण है।
(ii) उपभोक्ताओं में आपस में एकजुटता नहीं हैं। अर्थात् उपभोक्ता बिखरे हुए हैं। इनका अपना कोई मंच नहीं है।
(ii) उपभोक्तओं को अपने अधिकारों का ज्ञान ही नहीं है अर्थात् वह अपने अधिकारों के प्रति सजग नहीं है, इसलिए ही उनका शोषण होता है
(iv) उपभोक्ताओं को अधिकतम खुदरा मूय से अधिक राशि लेकर माल बेचा जाता है। यह भी शोषण का एक प्रमुख कारण है

प्रश्न 2. उपभोक्ता के कर्तव्यों के बारे में लिखें [2016C,2011A]
अथवा, उपभोक्ता के रूप में बाजार में उनके कुछ कर्त्तव्यों का वर्णन करें

उत्तर- उपभोक्ता को निम्न कर्त्तव्यों को ध्यान में रखना आवश्यक है
(1) उपभोक्ताओं को क्रय-विक्रय की जानेवाली वस्तुओं के व्यावसायिक पक्षों के साथ ही सुरक्षा एवं स्वास्थ्य आदि पर उनके प्रभावों की जानकारी होनी चाहिए।
(ii) जहाँ कहीं भी संभव हो, खरीदे गए सामान या सेवा की रसीद अवश्य लेनी चाहिए।
(iii) अनेक स्थानों पर सरकार अथवा अन्य स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा उपभोक्ता संघों की स्थापना की गई है। उपभोक्ताओं को उनके कार्यकलाप में रुचि लेनी चाहिए।
(iv) उपभोक्ताओं को अपने अधिकारों की जानकारी होनी चाहिए और आवश्यकता पड़ने पर उनका प्रयोग भी करना चाहिए ।

प्रश्न 3. उपभोक्ता कौन है ? संक्षेप में बताएँ।

उत्तर–व्यक्ति जब वस्तुएँ एवं सेवाएँ अपने प्रयोग के लिए खरीदता है, तब वह “उपभोक्ता” कहलाता है । खरीददार की अनुमति से ऐसी वस्तुओं और सेवाओं का प्रयोग करनेवाला ही उपभोक्ता है। व्यवसाय जगत में उपभोक्ता का स्थान महत्वपूर्ण होता है। महात्मा गाँधी ने बाजार उपभोक्ता के महत्व के बारे में कहा था “ग्राहक हमारी दुकान में आनेवाला सबसे महत्वपूर्ण व्यक्ति है। वह हम पर निर्भर नहीं हम उनपर निर्भर हैं।”

प्रश्न 4. कुछ ऐसे कारकों की चर्चा करें जिससे उपभोक्ता का शोषण होता है। [2015C, TBQ]

उत्तर-उपभोक्ता शोषण के निम्नलिखित कारक हैं.
(i) मिलावट की समस्या महँगी वस्तुओं में मिलावट करके उसे ऊँचे दर पर बेच देना । इस प्रकार उपभोक्ता का शोषण होता है।
(ii) कम तौलने द्वारा वस्तुओं के माप में भी हेरा-फेरी करके उपभोक्ता का शोषण किया जाता है।
(iii) कम गुणवत्ता वाली उपभोक्ता को धोखे से कम गुणवत्ता वाली वस्तु देकर शोषण करना ।
(iv) ऊँची कीमत द्वारा ऊँची कीमत वसूल करके भी उपभोक्ता का शोषण किया जाता है
(v) डुप्लीकेट वस्तुएँ सही कंपनी का डुप्लीकेट वस्तुएँ प्रदान करके उपभोक्ता का शोषण होता है।

प्रश्न 5. आप किसी खाद्य पदार्थ संबंधी वस्तुओं को खरीदते समय कौन-कौन से मुख्य बातों का ध्यान रखेंगे? बिन्दुवार लिखें I

उत्तर–किसी भी खाद्य पदार्थ संबंधी वस्तु को खरीदते समय उस वस्तु की पूर्ण जानकारी आवश्यक होती है जैसे-वस्तु का ग्रुप, मात्रा, वस्तु बनाने में प्रयुक्त तत्व आदि का प्रभाव जानना आवश्यक होता है। वस्तु उपयोग में खराब वस्तु निकलने पर उसका प्रयोग उपभोक्ता केन्द्र पर
की जा सकती है तथा उचित शिकायत दर्ज कराकर मुआवजा प्राप्त किया जा सकता है।

प्रश्न 6. उपभोक्ता जागरण हेतु विभिन्न नारों को लिखें।

उत्तर-उपभोक्ता जागरण हेतु विभिन्न नारे निम्नलिखित
(i) सतर्क उपभोक्ता ही सुरक्षित उपभोक्ता है।
(ii) ग्राहक सावधान ।
अपने अधिकारों को पहचानो ।
(iv) जागो ग्राहक जागो ।
(४) उपभोक्ता के रूप में अपने अधिकारों की रक्षा करो।

प्रश्न 7. उपभोक्ता संगठन की बेबसाइट क्या है।

उत्तर- www.cuts international organisation.

प्रश्न 8. ऐसे दो संस्थाओं के नाम लिखें जो. उपभोग के अधिकार को संरक्षित करती है।

उत्तर-(i) मानवाधिकार आयोग, (i) सूचना आयोग ।

प्रश्न 9. उपभोक्ता की मुख्य समस्या क्या है ?

उत्तर माल सेवा की घटिया किस्म तथा जानकारी का अभाव ही उपभोक्ता की मुख्य समस्या है।

प्रश्न 10. उपभोक्ता का जागरुक होना क्यों आवश्यक है?

उत्तर उपभोक्ता अपने अधिकारों को जान सके तथा शोषण से बचे इसलिए इनका जागरुक होना जरूरी है।

 

प्रश्न 11. सूचना प्राप्त करने के मुख्य माध्यम क्या हैं ?

उत्तर- सूचना पाने का मुख्य माध्यम उत्पाद, विक्रेता, कंपनी, दूरभाष, सार्वजनिक संचार माध्यम, इंटरनेट पर उत्पादक की बेबसाइट, ई-मेल तथा फैक्स है।

प्रश्न 12. सुनवाई का अधिकार क्या है ?

उत्तर-उपभोक्ता को अपने प्रभावित करनेवाली सभी बातों को उपयुक्त मंचों के समक्ष प्रस्तुत करने का अधिकार है

प्रश्न 13. उत्पादक या व्यापारी के विरुद्ध कब शिकायत दर्ज की जाती है?

उत्तर- उपभोक्ता संरक्षण नियम के अनुसार उपभोक्ता के अधिकारों के विरुद्ध कार्य करता है तब उपभोक्ता शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

प्रश्न 14. आर्थिक शोषण से आप क्या समझते हैं ?

उत्तर बाजार में उपभोग के तहत अनेक वस्तुएँ उपलब्ध हो गई हैं, जिसके चकाचौंध में अक्सर उपभोक्ता भ्रमित हो जाते हैं कि कौन सी खरीदें ताकि उनकी आवश्यकताओं की पूर्ति हो सके। ऐसी स्थिति में उपभोक्ताओं का आर्थिक शोषण होने लगता है।

प्रश्न 15. सूचना का अधिकार क्या है ?

उत्तर- सूचना का अधिकार आम आदमी को अधिकार संपन्न बनाने हेतु सरकार द्वारा उठाया गया कदम है।
सूचना के अधिकार का तात्पर्य है कोई भी व्यक्ति अभिलेख, इमेल, आदेश दस्तावेज, नमूने और इलेक्ट्रॉनिक आँकड़ा आदि से सूचना प्राप्त कर सकते हैं।

प्रश्न 16. उपभोक्ता द्वारा शिकायत करने की सही तरीके का वर्णन करें।

उत्तर-शिकायत सादे कागज पर की जा सकती है शिकायत में निम्नलिखितbविवरण होना चाहिए
(i) शिकायतकर्ताओं तथा विपरीत पार्टी के नाम का विवरण तथा पता ।
(i) शिकायत से संबंधित तथ्य एवं यह सब कब और कहाँ हुआ ।
(ii) शिकायत में उल्लेखित आरोपों के समर्थन में दस्तावेज ।
(iv) शिकायत पर शिकायतकर्ता अथवा उसके प्राधिकृत एजेंट के हस्ताक्षर होने चाहिए।

प्रश्न 17. हॉलमार्क गैर मानक उत्पादों के खिलाफ आपकी हिफाजतbकरता है। कैसे?

उत्तर हॉलमार्क निर्दिष्ट करता है कि जेवरों की स्वतंत्र तथा परिशुद्धता कीbपूरी जाँच की गई है और यह नकली मानक नहीं है। लगभग 1500 उत्पादों पर चिह्न अंकित है जो खासतौर पर ऐसे उत्पाद आते हैं जो सेहत को नुकसान पहुँचा सकते हैं तथा जो उपभोक्ताओं की सुरक्षा करते हैं।
इसमें एल. पी. जी. सिलिण्डर्स बिजली उपकरण, सुरक्षा हैलमेट, खाद्य पदार्थ, रंग, सिमेंट, शिशु आहार तथा बबल गम जैसे उत्पाद शामिल है।

प्रश्न 18. पैकेट बंद खाद्य उत्पादों में निम्नलिखित कौन-कौन सी जानकारी देखना आवश्यक होता है?

उत्तर-कुछ ऐसी सामान्य जानकारियाँ है जिसे अवश्य देखना होगा। जैसे
* अवयवों की सूची
* वजन या परिमाण
* निर्माता का नाम और पता
* निर्माण की तिथि
* इस्तेमाल की समाप्ति
* निरामिष/सामिष चित्र
* डाले गये रंग और खुशबू की घोषणा
* पोषाहार का दावा-सम्मिलित पौष्टिक तत्वों की मात्राएँ
* स्वास्थ्य के प्रति हानिकारक चेतावनी
* वैधानिक चेतावनी ।

प्रश्न 19, उपभोक्ता फोरम में किन परिस्थितियों में शिकायत कर सकता है?

उत्तर-निम्नलिखित समस्यायें शिकायत की परिस्थितियाँ होती हैं।
(1) किसी व्यापारी द्वारा अनुचित/प्रतिबंधात्मक पद्धति के प्रयोग करने से यदि आपको हानि हुई है।
(ii) यदि खरीदे हुए समान में कोई खराबी है
(iii) किराए पर ली गई/उपयोग की गई सेवाओं में किसी प्रकार की कमी पाई गई है।
(iv) यदि आपसे प्रदर्शित मूल्य अथवा लागू कानून द्वारा अथवा इसके मूल्य से अधिक मूल्य लिया गया है।
(v) यदि किसी कानून का उल्लंघन करते हुए जीवन तथा सुरक्षा के लिए जोखिम पैदा करनेवाला सामान जनता को बेचा जा रहा है।

Leave a Reply